Saturday, October 5, 2013

Chandraghanta Durga Avatar Pooja Hindi


भगवती चन्द्र घंटा दुर्गा अवतार

नवरात्र के  तीसरे दिन भगवती मां दुर्गा की तीसरी शक्ति  भगवती चन्द्र घंटा की उपासना की जाती है। मां का यह रूप पाप- ताप एवं समस्त विघ् बाधाओं से मुक्ति प्रदान करता है और परम शांति दायक  एवं कल्याणकारी है।

मां के मस्तक में घंटे की भांति अर्घचन्द्र सुशोभित है। इसीलिए मां को चन्द्र घंटा कहते हैं। कंचन की तरह कांति वाली भगवती की दश विशाल भुजाएं है। दशों भुजाओं में खड्ग, वाण, तलवार, चक्र, गदा, त्रिशूल आदि अस्त्र-शस्त्र शोभायमान हैं। मां सिंह पर सवार होकर मानो युद्ध के लिए उद्यत दिखती हैं। मां की घंटे की तरह प्रचण्ड ध्वनि से असुर सदैव भयभीत रहते हैं।  Photo

तीसरे दिन की पूजा अर्चना में मां चन्द्र घंटा का स्मरण करते हुए साधकजन अपना मन मणिपुर चक्र में स्थित करते हैं। उस समय मां की कृपा से साधक को आलौकिक दिव्य दर्शन एवं दृष्टि प्राप्त होती है। साधक के समस्त पाप-बंधन छूट जाते हैं। प्रेत बाधा आदि समस्याओं से भी मां साधक  की  रक्षा क रती हैं।

Source: http://essenceofastro.blogspot.in/2013/04/chandraghanta.html

__________

__________


भगवती चन्द्र घंटा दुर्गा अवतार पूजा


No comments:

Post a Comment