Thursday, March 2, 2017

Narendra Modi - Biography - Hindi - नरेन्द्र मोदी की जीवनी


Book

Commonman Narendra Modi (Hindi)

Kishore Makvana
Prabhat Prakashan, 2014 - 339 pages
https://books.google.co.in/books?id=JGdnBQAAQBAJ

Narendra Modi - Hindi - 2017 - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी


Source: http://pib.nic.in/newsite/pmphoto.aspx?mincode=3

नरेंद्र मोदीके बारे में नरेंद्र मोदी - सुनिये
_____________________

_____________________
Aaj Tak

नरेंद्र दामोदरदास मोदी - मन की बात 

26 June 2016



____________________

____________________

नरेंद्र दामोदरदास मोदी की दो साल का पालन

26 May 2016
_______________


_______________
Zee News

बदलता भारत बढ़ता भारत  - पूरा कार्यक्रम 

_______________

_______________
भारतीय जनता पार्टी
Bharatiya Janata Party


बदलता भारत बढ़ता भारत - मोदीजी का भाषण 

_______________


_______________




 नरेन्द्र मोदी की डिग्री
9 May 2016
__________________

__________________
IndiaTV  uploaded on 9 May 2016

चुनाव की जीत के बाद मोदीजी का पहला भाषण - वडोदरा में
__________________

__________________

अबकी बार मोदी सरकार - सच हो गया
__________________

__________________


नरेन्द्र मोदी की जीवनी - 1
_______________

_______________

नरेंद्र दामोदरदास मोदी की
_______________

_______________

नरेन्द्र मोदी की जीवनी - 2
_______________

_______________


उत्तर गुजरात के महेसाणा जिले में स्थित एक छोटे से गांव वडनगर में सितंबर, 1950 को श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म हुआ|

1967 में उन्होंने गुजरात के बाढ़ पीड़ितों की सेवा की थी।


भारत के सामाजिक एवं सांस्कृतिक विकास पर ध्यान केन्द्रित करने वाले संगठन, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संगठन (आरएसएस) से उन्होंने  1958 में शुरुआत की और निःस्वार्थता, सामाजिक जवाबदारी, समर्पण एवं राष्ट्रवाद की भावना को आत्मसात किया।

आरएसएस में अपने कार्यकाल के दौरान श्री नरेन्द्र मोदी ने  19 महीने (जून 1975 से जनवरी 1977) की दीर्घावधि तक रहे भयंकर ‘आपातकाल’  के वक्त अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई। इस पूरे समयकाल के दौरान भूमिगत रहते हुए मोदी जी ने गुप्त तरीके से केन्द्र सरकार की फासीवादी नीतियों के खिलाफ जोशीले अंदाज में जंग छेड़ते हुए लोकतंत्र की भावना को जीवित रखा।

1987 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होकर उन्होंने राजनीति की मुख्य धारा में प्रवेश किया। एक वर्ष के भीतर ही उन्हें पार्टी की गुजरात इकाई का महामंत्री नियुक्त किया गया।उन्होंने सच्चे अर्थों में पार्टी कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने के चुनौतीपूर्ण कार्य का बीड़ा उठाया, जिसकी वजह से पार्टी को राजनीतिक लाभ मिलना शुरू हो गया और अप्रैल, 1990 में  केन्द्र में गठबंधन सरकार अस्तित्व में आई। यह राजनीतिक गठबंधन कुछ महीनों के अंतराल के बाद टूट गया|

श्री मोदी को दो महत्वपूर्ण राष्ट्रीय घटनाओं के आयोजन की जिम्मेदारी सौंपी गई। एक, श्री लालकृष्ण आडवाणी की सोमनाथ से अयोध्या तक की लंबी रथयात्रा (1990) और दूसरी, देश के दक्षिणी छोर पर स्थित कन्याकुमारी से उत्तर में कश्मीर तक मुरली मनोहर जोशी  की यात्रा।

1995 में भाजपा अपने दम पर गुजरात में दो-तिहाई बहुमत के साथ सत्ता हासिल करने में सफल रही।

1995 में उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया गया और देश के पांच महत्वपूर्ण राज्यों की जिम्मेवारी सौंपी गई, जो किसी भी युवा नेता के लिए बड़ी उपलब्धि की बात थी। 1998 में उन्हें महासचिव (संगठन) के पद पर पदोन्नत किया गया।

अक्टूबर, 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में  मोदी नियुक्त हुआ|  7 अक्टूबर, 2001 को जब श्री मोदी ने शपथ ग्रहण की, तब गुजरात जनवरी, 2001 में आए विनाशक भूकंप सहित अन्य कई प्राकृतिक आपदाओं के विपरीत प्रभावों से गुजर रहा था। श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रतिकूल परिस्थितयों को किस तरह सर्वांगी विकास के अवसरों में तब्दील कर दिया, भुज शहर ( भूकंप में  नाश हो गया शहर  ) उसका जीता-जागता सबूत है।

गोध्रा दंगें के ऊपर मोदी की भाषण - गुजराती बाषा में
__________________

__________________

श्री नरेन्द्र मोदी ने सर्वांगीण सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए उपयुक्त तरीके से सामाजिक क्षेत्र पर ध्यान केन्द्रीत कर राज्य के सर्वांगी विकास के लिए पांच सूत्रीय रणनीति- पंचामृत योजना की परिकल्पना की।

अपनी प्रशासनिक सूझबूझ, सपष्ट दूरदर्शिता और चारित्र्य के अखंडता सहित उनकी इन सभी कुशलताओं की वजह से दिसम्बर 2002 के आम चुनावों में भव्य विजय हासिल की और मोदी सरकार 182 सीटों वाली विधानसभा में 128 सीटें जीतकर भारी बहुमत के साथ चुन ली गई। 2007 के चुनावों में भी फिर से एक बार श्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा को भारी बहुमत मिला।

2012 के विधानसभा चुनाव में फिर से एक बार श्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने भारी बहुमत प्राप्त किया। भाजपा को 115 सीटें मिली और 26 दिसम्बर 2012 को मोदी ने लगातार चौथी बार गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।


मोदीजी की प्रधान मंत्री की रूप में शपध ग्रहण 26 May 2014
http://pib.nic.in/photo//2014/May/l2014052653989.jpg


भारतीय जनता पार्टी ने 2014(२०१४) चुनाव का प्रचार समिति का अध्यक्ष पद मोदीजीको दिय।  कुछ दिन बाद मोदीजीको प्रधान मंत्री प्रत्यासी घोषित किया गय। भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रधानमन्त्री प्रत्याशी घोषित किये जाने के बाद नरेन्द्र मोदी ने पूरे भारत का भ्रमण किया। देश में 437 बड़ी चुनावी रैलियाँ समेत  कुल 5827 कार्यक्रम किये। एक अद्भुत चुनाव प्रचार कार्यक्रम लाखों कार्यकर्तोंकी मदत लेकर मोदीजीने चलय। नतीजा
नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने 2014 के चुनावों में अभूतपूर्व सफलता भी प्राप्त की। चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) 336 सीटें जीतकर सबसे बड़े संसदीय दल के रूप में उभरा और  अकेले भारतीय जनता पार्टी ने 282 सीटों पर विजय प्राप्त की।


20 मई 2014 को संसद भवन में  बैठक में नरेन्द्र भाई मोदी को सर्वसम्मति से  भाजपा संसदीय दल और  राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का नेता चुना गया।  नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति से मिलने राष्ट्रपति भवन गये।राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उनका स्वागत किया और भारी बहुमत से विजयी होने की बधाई भी दी। राष्ट्रपति ने नरेन्द्र मोदी को भारत का 15वाँ प्रधानमन्त्री नियुक्त किय।


नरेन्द्र  मोदी ने सोमवार 26 मई, 2014 को शाम 6 बजे प्रधानमन्त्री पद की शपथ ली।

प्रधान मंत्रीजी का भाषण - आजादी दिन का भाषण 15 अगस्त 2014 

______________________

______________________
ABP News Upload
स्वतंत्रता दिवस 2014 के अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के भाषण पढ़ने के लिये।

    picture source: pib.nic.in
भारत का प्रधान मंत्री 15 (१५) अगस्त 2014  के दिन देश को सम्बोधित कर रहें है।


14 November 2014
जब मोदी अमेरिका गए थे, उन्होंने खाद्य सुरक्षा पर भारत की चिंताओं की जानकारी अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को दी थी| अमेरिका भारत की चिंताओं को माना।  ताजा बदलाव से खाद्य सुरक्षा के मामले में ऐतिहासिक समझौते की जमीन मजबूत हो गई है।
http://navbharattimes.indiatimes.com/business/business-news/india-rejoices-as-us-takes-a-u-turn-on-wto/articleshow/45137856.cms

16 November 2014
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कामकाज के तरीके की प्रशंसा करते हुए केंद्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने  कहा कि वह न तो खुद सोते हैं और न ही अपनी कैबिनेट के सदस्यों को सोने देते हैं|
http://navbharattimes.indiatimes.com/state/other-states/hyderabad/pm-neither-sleeps-nor-allows-us-to-sleep-venkaiah-naidu/articleshow/45167808.cms

नरेंद्र मोदी सरकार पहले साल

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने सरकार के एक साल पूरा होने पर विदेश नीति की दशा, दिशा और उपलब्धियों का ब्योरा  दिया। उन्होंने कहा कि अब विदेश नीति तीन कसौटियों पर परखी जा रही है - संपर्क, संवाद और परिणाम। पिछले एक साल में 101 देशों से संपर्क-संवाद साधा गया है और नया मंत्र है - विकास के लिए कूटनीति का।  पीएम मोदी की सक्रियता पर उन्होंने कहा कि  मोदीजी एक  'अतिसक्रिय' प्रधानमंत्री हैं।
http://khabar.ndtv.com/news/india/proactive-pm-not-a-challenge-but-a-support-says-sushma-swaraj-767473


न्यूयार्क टाइम्स ने एक समाचार विश्लेषण में कहा कि ‘‘ विदेश से देखें तो भारत उभरता हुआ सितारा नजर आ रहा है और इस साल इसके चीन से भी आगे निकलकर विश्व की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बनने की संभावना है। लेकिन भारत में रोजगार की वृद्धि सुस्त बनी हुई है, कारोबारी इंतजार करो और देखो का रच्च्ख अपना रहे हैं।’’
http://www.jansatta.com/international/us-media-critical-of-narendra-modi-first-year-in-office/27754/ 

सरकार ने पीएमओ की गरिमा बढ़ाई
विदेशों में देश का सम्मान बढ़ा
एक साल में बीजेपी ने विकासदर को 4.4 से 5.7 तक पहुंचाया
http://khabar.ndtv.com/news/india/modi-government-has-restored-the-pride-of-prime-ministers-office-amit-shah-766052


सीआईआई के अध्यक्ष सुमित मजूमदार ने कहा है कि पिछले एक साल में एनडीए सरकार ने आर्थिक हालात में बड़ा बदलाव कर दिया है। इसके चलते उपभोक्ताओं और निवेशकों में भरोसा बढ़ा है।

श्री नरेन्‍द्र मोदी - शरीर

कद - फुट/इंच 5"7"
वजन - 68 किलो
छाती - 38
कमर - 34



देश के 70वें स्वतंत्रता दिवस (15 August 2016) 


प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज नई दिल्‍ली में लाल किले की प्राचीर से देश के 70वें स्वतंत्रता दिवस (15 August 2016) के अवसर पर संबोधित किया। उनके भाषण के प्रमुख अंश इस प्रकार हैं:

• आजादी के इस पावन पर्व पर सवा सौ करोड़ देशवासियों को, विश्‍व में फैले हुए सभी भारतीयों को लाल किले की प्राचीर से बहुत-बहुत शुभकामनाएं।
• आजादी का यह पर्व, 70वां वर्ष एक नया संकल्‍प, नई उमंग, नई ऊर्जा, राष्‍ट्र को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का संकल्‍प पर्व है।
• आज हम जो आजादी की सांस ले रहे हैं, उसके पीछे लक्ष्याव्धि महापुरुषों का बलिदान है, त्‍याग और तपस्‍या की गाथा है।
• वेद से विवेकानंद तक, उपनिषद् से उपग्रह तक, सुदर्शन चक्रधारी मोहन से ले करके चरखाधारी मोहन तक, महाभारत के भीम से ले करके भीमराव तक, एक हमारी लम्‍बी इतिहास की यात्रा है, विरासत है।
• भारत की उम्र 70 साल नहीं है, यह यात्रा 70 साल की है।
• अब स्वराज्य (Self-Governance) को सुराज्य (Good-Governance) में बदलना, ये सवा सौ करोड़ देशवासियों का संकल्प है।
• पंचायत हो या Parliament हो, ग्राम प्रधान हो या प्रधानमंत्री हो, हर किसी को, हर Democratic Institution को सुराज्य (Good-Governance) की ओर आगे बढ़ने के लिए अपनी जिम्मेवारियों को निभाना होगा, अपनी जिम्मेवारियों को परिपूर्ण करना होगा।
• भारत के पास अगर लाखों समस्याएं हैं तो सवा सौ करोड़ मस्तिष्क भी हैं जो समस्याओं का समाधान करने का सामर्थ्य भी रखते हैं।
• शासन संवेदनशील होना चाहिए, शासन उत्‍तरदायी होना चाहिए।
• शासन में सुराज के लिए पारदर्शिता पर बल देना उतना ही महत्‍वपूर्ण है।

• Group ‘C’ और Group ‘D’ 9,000 पदों पर कोई इंटरव्‍यू प्रक्रिया नहीं होगी।
• हमें अपने काम की रफ्तार को तेज करना होगा। गति को और आगे बढ़ाना होगा।
• Renewable Energy पर हमारा बल है। • wind energy में पिछले एक साल के भीतर-भीतर करीब-करीब 40 प्रतिशत हमने वृद्धि की।

• हमने 60 सप्ताह में चार करोड़ नए लोगों को रसोई गैस के connections दिए।
• सामान्य व्यक्ति देश की अर्थव्यवस्था की मुख्य धारा का हिस्सा नहीं था। हमने 21 करोड़ लोगों को जनधन से जोड़कर असंभव को संभव किया।
• हिन्दुस्तान के गांवों में दो करोड़ से ज्यादा शौचालय बन चुके हैं। 70 हजार से अधिक गांव आज खुले में शौच जाने की परम्परा से मुक्त हो चुके हैं।
• उन 18 हजार गांवों में जहां बिजली नहीं पहुंची है 18 हजार गांवों में से दस हजार गांवों में आज बिजली पहुंच गई है।
• साढ़े तीन सौ रुपये में बिकने वाला बल्‍ब, सरकारी intervention का परिणाम यह हुआ कि आज हम 50 रुपये में वो बल्‍ब बांट रहे हैं।
• 13 करोड़ एलईडी बल्‍ब बंट चुके हैं। 77 करोड़ बल्‍ब बांटने का संकल्‍प है। इससे 20 हजार मेगावाट बिजली बचेगी, मतलब करीब-करीब सवा लाख करोड़ रुपया बच जाएगा।
• हमारे लगातार कदमों के कारण Inflation rate हमने 6 percent से ऊपर जाने नहीं दिया है।
• महंगाई रोकने में हमने भरपूर कोशिश की है। गरीब की थाली को महंगी नहीं होने दूंगा।
• हमने जमीन की सेहत पर ध्यान दिया। हमने स्वाइल हेल्थ कार्ड और जल प्रबंधन पर बल दिया है।
• जब नीति साफ हो, नीयत स्पष्ट हो, तब निर्णय करने का जज्बा भी कुछ और होता है।
• हमने जल प्रबंधन, जल सींचन और जल संरक्षण पर बल दिया है। per drop-more crop, Micro-irrigation इसको हम बल दे रहे हैं। 90 से ज्‍यादा सिंचाई की योजनाएं आधी-अधूरी ठप्‍प पड़ी थीं, हमने बीड़ा उठाया है सबसे पहले उन योजनाओं को पूरा करेंगे।

• हमारे देश के वैज्ञानिकों ने 131 से ज्‍यादा नए कृषि के योग्‍य बीज तैयार किए हैं।
• हम खाद की कमी दूर करने और सबसे ज्‍यादा खाद उत्‍पादन करने में सफल हुए हैं।
• प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना- पहली बार कम से कम प्रीमियम से अधिक से अधिक वो भी गारंटी के साथ फसल बीमा योजना देने का काम।
• फसल के उत्‍पादन को 15 लाख टन अन्‍न के संरक्षण के लिए नए गोदामों का निर्माण। •
• हम isolated development की जगह पर integrated development की ओर बल दे रहे हैं। हम entitlement से छोड़कर के empowerment पर ध्‍यान दे रहे हैं।
• साढ़े सात लाख करोड़ रुपए के करीब-करीब 118 project, वो किसी न किसी सरकार ने प्रारंभ किए थे, लटके पड़े थे, पूरा करने की शुरुआत की।
• योजनाओं का अटकाना, योजनाओं का delayed होना, रुपयों की बर्बादी होना एक प्रकार से criminal negligence है और उससे हमने पार करने का प्रयास किया है।

• गन्‍ना किसान का हजारों करोड़ रुपयों का बकाया था, करीब-करीब 95% किसानों को गन्‍ने का दाम चुका दिया गया।
• 5 करोड़ गरीब परिवारों को गैस का चूल्‍हा तीन साल में पहुंचाने का बीड़ा।
• post offices को payment bank में convert करने की दिशा में कदम उठाया गया। एक साथ देश के गांवों तक बैंकों का जाल बिछेगा, जन-धन account का लाभ मिलेगा और सामान्‍य मानव के लिए MNREGA का पैसा भी अब आधार के द्वारा उसके खाते में जा रहा है।
• Air India को Operational Profit में लाने सफल हुए हैं। पहली बार BSNL को Operational Profit में लाने में हमें सफलता मिली है। आज Shipping Corporation of India फायदे में आया है।

• Foreign Direct Iinvestment के मामले में हमारा देश आज पंसदीदा देश बना।
• विकास दर में देश की बड़ी-बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था को भी हमने Growth rate की दुनिया में GDP में हमने पीछे छोड़ दिया है।
• GST का जो कानून पास हुआ, वो भी उसमें एक ताकत देने वाला काम हुआ है।
• मुद्रा योजना का लाभ साढ़े तीन करोड़ से ज्‍यादा परिवारों ने लिया। उसमें अधिकतम नये लोग थे जो बैंक के दरवाजें पर पहुंचे। उसमें भी 80% करीब-करीब SC, ST, OBC के थे और उसमें भी बैंक में, मुद्रा बैंक में लोन लेने वाली 80% महिलाएं हैं।
• माताएं-बहनें प्रसूति के बाद छुट्टी 26 हफ्ते की कर दी है, ताकि मां अपने बच्‍चे का लालन- पालन कर सके।
• हमने एक किसानों के लिए मंडी e-NAM की योजना की है। आज किसान अपना माल online हिंदुस्तान की किसी भी मंडी में बेच सकता है।

• भारत को जोड़ने की दिशा में रामानुजाचार्य जी कहते थे भगवान के सभी भक्‍तों को, भेदभाव और ऊंच-नीच का ख्‍याल किए बिना सेवा करो। उम्र-जाति के कारणों की वजह से किसी का भी अनादर मत करो, हर किसी का सम्‍मान करो।
• देश में सबसे ज्‍यादा Software निर्यात हो रहा है, देश में 50 से ज्‍यादा नई मोबाइल की फैक्ट्रियां लगी हैं, ये सारी बातें नौजवानों के लिए अवसर देती हैं।

• विविधता में एकता, ये हमारी सबसे बड़ी ताकत है, एकता का मंत्र हमारी जड़ों से जुड़ा हुआ है।
• हम सम्मान देना जानते हैं, हम सत्कार करना जानते हैं, हम समावेश करना जानते हैं इस महान परंपरा को लेकर के हम चले हैं और इसलिए हिंसा और अत्याचार का हमारे देश में कोई स्थान नहीं है।
• ये देश हिंसा को कभी सहन नहीं करेगा, ये देश आतंकवाद को कभी सहन नहीं करेगा, ये देश आतंकवाद के सामने कभी झुकेगा नहीं, माओवाद के सामने कभी झुका नहीं।
• गरीबी से लड़ेंगे तो हम तबाही से निकलकर के समृद्धि की ओर चल पड़ेंगे और इसलिए मैं सभी पड़ोसियों को गरीबी से लड़ने के लिए निमंत्रण देता हूं।

• किसी गरीब परिवार को आरोग्‍य की सेवाओं का लाभ लेना है, तो वर्ष में एक लाख रुपये तक का खर्च भारत सरकार उठाएगी।
• एक समाज, एक सपना, एक संकल्‍प, एक दिशा, एक मंजिल इस बात को ले करके हम आगे बढ़े।
भारत माता की जय, वंदे मातरम, जय हिंद।


Biblography

http://www.narendramodi.in/hi/the-cm/

http://www.narendramodi.in/hi/practical-dreamer/

http://www.narendramodi.in/hi/international/

दूरद्रष्टा नरेन्द्र मोदी
http://pustak.org/bs/home.php?bookid=6922

Excerpts from Various Articles


नरेंद्र मोदी बचपन से ही आरएसएस से जुड़े हुए थे. 1958 में दीपावली के दिन गुजरात आरएसएस के पहले प्रांत प्रचारक लक्ष्मण राव इनामदार उर्फ वकील साहब ने नरेंद्र मोदी को बाल स्वयंसेवक की शपथ दिलवाई थी. मोदी आरएसएस की शाखाओं में जाने लगे. लेकिन जब मोदी ने चाय की दुकान खोली तो शाखाओं में उनका आना जाना कम हो गया. बाद में  मोदीको प्रचारकों के लिए चाय-नाश्ता बनाने का काम मिला|

 गुजरात आरएसएस के दफ्तर हेडगेवार भवन में सुबह नरेंद्र मोदी प्रचारकों के लिए चाय नाश्ता बनाते थे. इसके बाद हेडगेवार भवन के सारे कमरों की सफाई में जुट जाते थे. आठ नौ कमरों की सफाई के बाद अपने और वकील साहब के कपड़े धोने की बारी आती थी.

नरेंद्र मोदी बहुत मेहनती कार्यकर्ता थे. आरएसएस के बड़े शिविरों के आयोजन में वो अपने मैनेजमेंट का कमाल भी दिखाते थे. आरएसएस नेताओं का ट्रेन और बस में रिजर्वेशन का जिम्मा उन्हीं के पास होता था. इतना ही नहीं गुजरात के हेडगेवार भवन में आने वाली हर चिट्ठी को खोलने का काम भी नरेंद्र मोदी को ही करना होता था.

नरेंद्र मोदी का मैनेजमेंट और उनके काम करने के तरीके को देखने के बाद आरएसएस में उन्हें बड़ी जिम्मेदारी देने का फैसला लिया गया. इसके लिए उन्हें राष्ट्रीय कार्यालय नागपुर में एक महीने के विशेष ट्रेनिंग कैंप में बुलाया गया.

आरएसएस के नागपुर मुख्यालय में ट्रेनिंग लेकर नरेंद्र मोदी गुजरात आरएसएस प्रचारक बनकर लौटे.
http://aajtak.intoday.in/story/modi-did-service-of-indian-soldiers-during-indo-pak-war.-1-716386.html

राजनीतिक जीवन

1974 में देश के प्रसिद्ध सामाजिक-सांस्कृतिक संगठन, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आर.एस.एस) के स्वयं सेवक के रूप में उन्होंने अपने जीवन की शुरुआत की। यहीं उन्हें निस्वार्थता, सामाजिक दायित्वबोध, समर्पण और देशभक्‍ति के विचारों को आत्म सात करने का अवसर मिला। अपने संघ कार्य के दौरान नरेंद्र मोदी ने कई मौकों पर महत्त्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं। फिर चाहे वह 1974 में भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ चलाया गया आंदोलन हो, या 19 महीने (जून 1975 से जनवरी 1977) चला अत्यंत प्रताडि़त करने वाला ‘आपात काल’ हो।

भाजपा में प्रवेश

1987 में भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) में प्रवेश कर उन्होंने राजनीति की मुख्यधारा में क़दम रखा। सिर्फ़ एक साल के भीतर ही उनको गुजरात इकाई के प्रदेश महामंत्री (जनरल सेक्रेटरी) के रूप में पदोन्नत कर दिया गया। तब तक उन्होंने एक अत्यंत ही कार्यक्षम व्यवस्थापक के रूप में प्रतिष्ठा हासिल कर ली थी। पार्टी को संगठित कर उसमें नई शक्ति का संचार करने का चुनौतीपूर्ण काम भी उन्होंने स्वीकार कर लिया। इस दौरान पार्टी को राजनीतिक गति प्राप्त होती गई और अप्रैल, 1990 में केन्द्र में साझा सरकार का गठन हुआ। हालांकि यह गठबंधन कुछ ही महीनो तक चला, लेकिन 1995 में भाजपा अपने ही बलबूते पर गुजरात में दो तिहाई बहुमत हासिल कर सत्ता में आई।

व्यक्तित्व नरेन्द्र मोदी

नरेन्द्र मोदी की छवि एक कठोर प्रशासक और कड़े अनुशासन के आग्रही की मानी जाती है, लेकिन साथ ही अपने भीतर वे मृदुता एवं सामर्थ्य की अपार क्षमता भी संजोये हुए हैं। नरेन्द्र मोदी को शिक्षा-व्यवस्था में पूरा विश्वास है। एक ऐसी शिक्षा-व्यवस्था जो मनुष्य के आंतरिक विकास और उन्नति का माध्यम बने एवं समाज को अँधेरे, मायूसी और ग़रीबी के विषचक्र से मुक्ति दिलाये। विज्ञान और प्रौद्योगिकी में नरेन्द्र मोदी की गहरी दिलचस्पी है। उन्होंने गुजरात को ई-गवर्न्ड राज्य बना दिया है और प्रौद्योगिकी के कई नवोन्मेषी प्रयोग सुनिश्चित किये हैं। ‘स्वागत ऑनलाइन’ और ‘टेलि फरियाद’ जैसे नवीनतम प्रयासों से ई-पारदर्शिता आई है, जिसमें आम नागरिक सीधा प्रशासन के उच्चतम कार्यालय का संपर्क कर सकता है। जनशक्ति में अखण्ड विश्वास रखने वाले नरेन्द्र मोदी ने बखूबी क़रीब पाँच लाख कर्मचारियों की मज़बूत टीम की रचना की है। नरेन्द्र मोदी यथार्थवादी होने के साथ ही आदर्शवादी भी हैं। उनमें आशावाद कूटकूट कर भरा है। उनकी हमेशा एक उदात्त धारणा रही है कि असफलता नहीं, बल्कि उदेश्य का अनुदात्त होना अपराध है। वे मानते हैं कि जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता के लिए स्पष्ट दृष्टि, उद्देश्य या लक्ष्य का परिज्ञान और कठोर अध्यवसाय अत्यंत ही आवश्यक गुण हैं।
http://imib.in/namo-narendra-modis-biography/         )

नरेंद्र मोदी के बारे में चेतन भगत का व्याख्यान
______________

______________


पार्ट
______________

______________

पार्ट ३
______________

______________



2015 में नरेंद्र मोदी की जीवनी



28 February 2015
वॉल स्ट्रीट जर्नल ने भी बजट की सराहना करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार के बजट में राजकोषीय जिम्मेदारी के साथ आर्थिक वृद्धि के लिए सार्वजनिक निवेश की बात कही गई है।
http://hindi.webdunia.com/budget-2015-16/general-budget-115022800108_1.html

 22 March 2015
मन की बात में किसानों से क्या बोले मोदी
http://hindi.webdunia.com/national-hindi-news/narendra-modi-address-farmers-in-mann-ki-baat-115032200004_1.html


वारणाशी में मोदीजी का काम
http://www.narendramodi.in/varanasi/hi/



Latest News from Navbharattimes about Narendra Modi

Atal Behari Vajpayee - Biography - Hindi - अटल बिहारी वाजपेयी की जीवनी


Updated  21 March 2017,  4 March 2017, 27 February 2017, 25 January 2017, 26 June 2016,  26 May 2016, 9 May 2016,  26 Mar 2016,  22 March 2015, 24 Dec 2014

23 comments:

  1. We Proud of the prime minister of india

    ReplyDelete
  2. www.inspirationalmotivation.in is number one hindi website.narendra modi ji ki jai ho

    ReplyDelete
  3. we are proud of prime minister in india

    ReplyDelete
  4. I am proud of my prime minister in India . jai hind..

    ReplyDelete
  5. Good prime minister of India. Jai hind.

    ReplyDelete
  6. I am proud of my primeminister ( shree narender modi )jai hind.

    ReplyDelete
  7. mujhe lagta hai ki ab hamara Bharat desh badalne wala hai. jab se hamare modi Ji p.m. bane hai tab se badlaw nazar aa raha hai. best of luck modi Ji

    ReplyDelete
  8. mujhe hamara Bharat desh ma badalne wala ha. best of luck modi Ji

    ReplyDelete
  9. First time best prime minister of india

    ReplyDelete
  10. Modi Dam dama dam aur Dam me Bhi hai dum

    ReplyDelete
  11. i salute of his ideas .great modi g

    ReplyDelete
  12. I proud of My Prime Minister of India I pray to God Always Prime Minister Like NAMO
    I very like NAMO

    Akhilesh Rajbhar

    ReplyDelete
  13. Narendra Modi is a great Leader. i proud of my Prime Minister of India. जन जन का नारा है अबकी बार यूपी में ‪भाजपा‬ सरकार vote for bjp - join bjp

    ReplyDelete
  14. I proud of My Prime Minister of India

    ReplyDelete
  15. I proud of My Prime Minister of India

    ReplyDelete
  16. I proud of my Prime Minister of India.
    जन जन का नारा है अबकी बार यूपी में ‪भाजपा‬ सरकार?
    Vote for BJP Vote for Narender Modi Ji.
    I am used fan of my ideals Shree Narender Modi Ji.
    You are best Prim minister of india

    ReplyDelete
  17. Thankyou for providing the informative content.
    If you want any information regarding GSEB ssc result then click here Gujarat board ssc result

    ReplyDelete